SEO

Sitemap क्या होता है और इसे ब्लॉग में कैसे ऐड करें?

क्या आपके लिए Google पर अपनी वेबसाइट बनाने का समय हो गया है और अब तक आपकी वेबसाइट को Google के खोज इंजन में रैंक नहीं किया गया है? क्या आप जानते हैं कि साइटमैप क्या है और इसे ब्लॉग में कैसे जोड़ा जाता है? क्या आपको लगता है कि बिना टेक्निकल SEO किए आपकी … Continue reading Sitemap क्या होता है और इसे ब्लॉग में कैसे ऐड करें?

क्या आपके लिए Google पर अपनी वेबसाइट बनाने का समय हो गया है और अब तक आपकी वेबसाइट को Google के खोज इंजन में रैंक नहीं किया गया है? क्या आप जानते हैं कि साइटमैप क्या है और इसे ब्लॉग में कैसे जोड़ा जाता है? क्या आपको लगता है कि बिना टेक्निकल SEO किए आपकी वेबसाइट की रैंकिंग शुरू हो जाएगी? अगर आपको इन सब के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है तो कोई बात नहीं, मैं इस आर्टिकल में आपको Sitemap के बारे में पूरी जानकारी दूंगा.

Sitemap SEO जितना ही पुराना है लेकिन फिर भी 2021 में 20% से 30% Bloggers जो अपनी वेबसाइट का Sitemap ठीक से बनाना नहीं जानते हैं। कुछ समय पहले जब भारत में वेबसाइट शुरू की गई थी, तब सरकारी वेबसाइट के मुख्य पृष्ठ पर कुछ लिंक थे। जो वेबसाइट के अलग-अलग ब्लॉग पोस्ट के बारे में बताता था। उस पेज को साइटमैप कहा जाता था। तब से लेकर अब तक साइटमैप में काफी बदलाव आया है।

साइटमैप आपकी वेबसाइट के लिए एक ब्लूप्रिंट के रूप में काम करता है और Google के क्रॉलर को बताता है कि आपकी वेबसाइट में सामग्री क्या है। और वह किस श्रृंखला में लगे हुए हैं? साइटमैप का उपयोग करके, आप अपनी वेबसाइट को Google के क्रॉलर के लिए आसान बना सकते हैं।

यदि आप साइटमैप के HTML और XML साइटमैप दोनों को बेहतर ढंग से समझना चाहते हैं तो इस लेख के किसी भी बिंदु को देखना न भूलें। यह लेख आपके लिए बहुत ही रोचक होने वाला है, तो चलिए शुरू करते हैं।

साइटमैप क्या है?

विषयसूची

साइटमैप क्या है?
साइटमैप क्यों आवश्यक है?
साइटमैप के प्रकार
एचटीएमएल साइटमैप
एक्सएमएल साइटमैप
ब्लॉगर में साइटमैप कैसे बनाएं और इसे गूगल सर्च कंसोल में कैसे अपलोड करें?
Hostinger Hosting और Free SSL खरीदें
अतिरिक्त छूट कोड: – SEOPAVAN
वर्डप्रेस में साइटमैप कैसे बनाएं और इसे गूगल सर्च कंसोल पर अपलोड करें?
निष्कर्ष: साइटमैप क्या है?
अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न: साइटमैप क्या है?
साइटमैप, वह फ़ाइल जिसमें आपकी वेबसाइट के सभी पोस्ट, पेज, इमेज, वीडियो आदि का डेटा होता है। इस फ़ाइल को ही साइटमैप कहा जाता है। साइटमैप के माध्यम से आप Google के Crawler को बताते हैं कि आपकी वेबसाइट में क्या सामग्री है? जिससे Google के स्पाइडर आपकी वेबसाइट के कंटेंट को आसानी से नेविगेट कर सकते हैं।

कई ब्लॉगर हैं जिन्हें लगता है कि साइटमैप उनकी वेबसाइट के लिए महत्वपूर्ण नहीं है। लेकिन मैं यह साफ कर देना चाहता हूं कि ऐसी कोई बात नहीं है। अगर आप अपनी वेबसाइट को टॉप पर रैंक करना चाहते हैं तो एक साइटमैप बना लें।

यह ध्यान देने योग्य है कि साइटमैप कभी भी Google के क्रॉलर को क्रॉल करने से नहीं रोकता है या यदि आपकी वेबसाइट में साइटमैप नहीं है, तो आपकी वेबसाइट रैंक नहीं करेगी। ऐसा कुछ भी नहीं है, Sitemaps आपकी वेबसाइट के SEO में बहुत मदद करते हैं।

साइटमैप आपकी वेबसाइट को Google खोज इंजन में शीर्ष पर स्थान दिलाने के लिए प्रेरित करते हैं। साथ ही, आपकी वेबसाइट पर Google के स्पाइडर को कॉल करने के लिए साइटमैप का उपयोग आमंत्रण के रूप में किया जाता है। अब यह आप पर निर्भर करता है कि आप कितनी अच्छी तरह वेबसाइट का साइटमैप बनाते हैं।

आपके साइटमैप की संरचना जितनी बेहतर होगी, उतनी ही जल्दी Google का क्रॉलर आपकी वेबसाइट पर नेविगेट कर पाएगा।

साइटमैप क्यों आवश्यक है?

आप जानते हैं कि साइटमैप क्या है? आइए अब समझते हैं कि साइटमैप क्यों आवश्यक है? अगर आप अपनी वेबसाइट के लिए SEO कर रहे हैं तो उसमें एक साइटमैप जोड़ें क्योंकि साइटमैप आपकी वेबसाइट के लिए बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

Google के स्पाइडर हर समय नई नई सामग्री की तलाश में रहते हैं और अगर उन्हें आपकी वेबसाइट पर साइटमैप नहीं मिलता है, तो वे विचलित हो जाते हैं। जिसका परिणाम यह होता है कि आपकी वेबसाइट के कुछ महत्वपूर्ण पेज छूट जाते हैं और आपकी वेबसाइट सर्च इंजन में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाती है।

अगर आप नहीं चाहते कि ऐसा हो और आपकी वेबसाइट के सारे पेज गूगल सर्च इंजन में रैंक हो जाए तो आप एक साइटमैप जरूर बना लें, इससे आपकी वेबसाइट का एक भी पेज नहीं बचेगा। साइटमैप उपयोगकर्ताओं और Google के Crawlers दोनों के लिए बनाया गया है। जिस तरह आप आसानी से किसी भी जगह मैप के जरिए पहुंच सकते हैं, उसी तरह आपकी वेबसाइट के यूजर्स और गूगल के क्रॉलर आपकी वेबसाइट को आसानी से एक्सेस कर पाएंगे।

आइए इसे बेहतर तरीके से समझते हैं कि अगर आप भारत से बाहर किसी दूसरे देश में जाना चाहते हैं और वहां की ऐतिहासिक इमारतों को देखना चाहते हैं, तो आप कैसे पता लगाएंगे? ठीक नक्शे पर, ठीक! वहां के बारे में जानने के लिए आपको एक मैप की जरूरत पड़ेगी, जिससे आप जान पाएंगे कि कैसे जाना है और कहां क्या देखने को मिलेगा?

उसी तरह अगर आपकी वेबसाइट में साइटमैप होगा तो आपके यूजर भी आपकी वेबसाइट को अच्छे से समझ पाएंगे।

साइटमैप के प्रकार

साइटमैप मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं।

एचटीएमएल साइटमैप
एक्सएमएल साइटमैप
इस लेख में, मैं आप दोनों को बताऊंगा कि HTML साइटमैप क्या है? और XML साइटमैप क्या है?

एचटीएमएल साइटमैप
HTML साइटमैप साइटमैप हैं जो विशेष रूप से उपयोगकर्ताओं के लिए बनाए गए हैं। HTML साइटमैप उपयोगकर्ताओं के अनुभव को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है ताकि उपयोगकर्ता आपकी वेबसाइट के बारे में आसानी से नेविगेट कर सकें।

जब आप अपनी वेबसाइट बनाते हैं तो शुरुआत में HTML साइटमैप की ज्यादा जरूरत नहीं होती है, लेकिन जब आपकी वेबसाइट बढ़ने लगे तो आपको HTML साइटमैप जरूर बनाना चाहिए क्योंकि यह आपकी वेबसाइट के स्ट्रक्चर के बारे में ज्यादा डिटेल देता है। यह SEO की दृष्टि से भी बहुत अच्छा है।

एक बार गूगल सर्च कंसोल

क्या आपके लिए Google पर अपनी वेबसाइट बनाने का समय हो गया है और अब तक आपकी वेबसाइट को Google के खोज इंजन में रैंक नहीं किया गया है? क्या आप जानते हैं कि साइटमैप क्या है और इसे ब्लॉग में कैसे जोड़ा जाता है? क्या आपको लगता है कि बिना टेक्निकल SEO किए आपकी वेबसाइट की रैंकिंग शुरू हो जाएगी? अगर आपको इन सब के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है तो कोई बात नहीं, मैं इस आर्टिकल में आपको Sitemap के बारे में पूरी जानकारी दूंगा.

Sitemap SEO जितना ही पुराना है लेकिन फिर भी 2021 में 20% से 30% Bloggers जो अपनी वेबसाइट का Sitemap ठीक से बनाना नहीं जानते हैं। कुछ समय पहले जब भारत में वेबसाइट शुरू की गई थी, तब सरकारी वेबसाइट के मुख्य पृष्ठ पर कुछ लिंक थे। जो वेबसाइट के अलग-अलग ब्लॉग पोस्ट के बारे में बताता था। उस पेज को साइटमैप कहा जाता था। तब से लेकर अब तक साइटमैप में काफी बदलाव आया है।

साइटमैप आपकी वेबसाइट के लिए एक ब्लूप्रिंट के रूप में काम करता है और Google के क्रॉलर को बताता है कि आपकी वेबसाइट में सामग्री क्या है। और वह किस श्रृंखला में लगे हुए हैं? साइटमैप का उपयोग करके, आप अपनी वेबसाइट को Google के क्रॉलर के लिए आसान बना सकते हैं।

यदि आप साइटमैप के HTML और XML साइटमैप दोनों को बेहतर ढंग से समझना चाहते हैं तो इस लेख के किसी भी बिंदु को देखना न भूलें। यह लेख आपके लिए बहुत ही रोचक होने वाला है, तो चलिए शुरू करते हैं।

साइटमैप क्या है?
विषयसूची

साइटमैप क्या है?
साइटमैप क्यों आवश्यक है?
साइटमैप के प्रकार
एचटीएमएल साइटमैप
एक्सएमएल साइटमैप
ब्लॉगर में साइटमैप कैसे बनाएं और इसे गूगल सर्च कंसोल में कैसे अपलोड करें?
Hostinger Hosting और Free SSL खरीदें
अतिरिक्त छूट कोड: – SEOPAVAN
वर्डप्रेस में साइटमैप कैसे बनाएं और इसे गूगल सर्च कंसोल पर अपलोड करें?
निष्कर्ष: साइटमैप क्या है?
अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न: साइटमैप क्या है?
साइटमैप, वह फ़ाइल जिसमें आपकी वेबसाइट के सभी पोस्ट, पेज, इमेज, वीडियो आदि का डेटा होता है। इस फ़ाइल को ही साइटमैप कहा जाता है। साइटमैप के माध्यम से आप Google के Crawler को बताते हैं कि आपकी वेबसाइट में क्या सामग्री है? जिससे Google के स्पाइडर आपकी वेबसाइट के कंटेंट को आसानी से नेविगेट कर सकते हैं।

कई ब्लॉगर हैं जिन्हें लगता है कि साइटमैप उनकी वेबसाइट के लिए महत्वपूर्ण नहीं है। लेकिन मैं यह साफ कर देना चाहता हूं कि ऐसी कोई बात नहीं है। अगर आप अपनी वेबसाइट को टॉप पर रैंक करना चाहते हैं तो एक साइटमैप बना लें।

यह ध्यान देने योग्य है कि साइटमैप कभी भी Google के क्रॉलर को क्रॉल करने से नहीं रोकता है या यदि आपकी वेबसाइट में साइटमैप नहीं है, तो आपकी वेबसाइट रैंक नहीं करेगी। ऐसा कुछ भी नहीं है, Sitemaps आपकी वेबसाइट के SEO में बहुत मदद करते हैं।

साइटमैप आपकी वेबसाइट को Google खोज इंजन में शीर्ष पर स्थान दिलाने के लिए प्रेरित करते हैं। साथ ही, आपकी वेबसाइट पर Google के स्पाइडर को कॉल करने के लिए साइटमैप का उपयोग आमंत्रण के रूप में किया जाता है। अब यह आप पर निर्भर करता है कि आप कितनी अच्छी तरह वेबसाइट का साइटमैप बनाते हैं।

आपके साइटमैप की संरचना जितनी बेहतर होगी, उतनी ही जल्दी Google का क्रॉलर आपकी वेबसाइट पर नेविगेट कर पाएगा।

साइटमैप क्यों आवश्यक है?
अब आप जानते हैं कि साइटमैप क्या है? आइए अब समझते हैं कि साइटमैप क्यों आवश्यक है? अगर आप अपनी वेबसाइट के लिए SEO कर रहे हैं तो उसमें एक साइटमैप जोड़ें क्योंकि साइटमैप आपकी वेबसाइट के लिए बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

Google के स्पाइडर हर समय नई नई सामग्री की तलाश में रहते हैं और अगर उन्हें आपकी वेबसाइट पर साइटमैप नहीं मिलता है, तो वे विचलित हो जाते हैं। जिसका परिणाम यह होता है कि आपकी वेबसाइट के कुछ महत्वपूर्ण पेज छूट जाते हैं और आपकी वेबसाइट सर्च इंजन में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाती है।

अगर आप नहीं चाहते कि ऐसा हो और आपकी वेबसाइट के सारे पेज गूगल सर्च इंजन में रैंक हो जाए तो आप एक साइटमैप जरूर बना लें, इससे आपकी वेबसाइट का एक भी पेज नहीं बचेगा। साइटमैप उपयोगकर्ताओं और Google के Crawlers दोनों के लिए बनाया गया है। जिस तरह आप आसानी से किसी भी जगह मैप के जरिए पहुंच सकते हैं, उसी तरह आपकी वेबसाइट के यूजर्स और गूगल के क्रॉलर आपकी वेबसाइट को आसानी से एक्सेस कर पाएंगे।

आइए इसे बेहतर तरीके से समझते हैं कि अगर आप भारत से बाहर किसी दूसरे देश में जाना चाहते हैं और वहां की ऐतिहासिक इमारतों को देखना चाहते हैं, तो आप कैसे पता लगाएंगे? ठीक नक्शे पर, ठीक! वहां के बारे में जानने के लिए आपको एक मैप की जरूरत पड़ेगी, जिससे आप जान पाएंगे कि कैसे जाना है और कहां क्या देखने को मिलेगा?

उसी तरह अगर आपकी वेबसाइट में साइटमैप होगा तो आपके यूजर भी आपकी वेबसाइट को अच्छे से समझ पाएंगे।

साइटमैप के प्रकार
साइटमैप मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं।

एचटीएमएल साइटमैप
एक्सएमएल साइटमैप
इस लेख में, मैं आप दोनों को बताऊंगा कि HTML साइटमैप क्या है? और XML साइटमैप क्या है?

एचटीएमएल साइटमैप
HTML साइटमैप साइटमैप हैं जो विशेष रूप से उपयोगकर्ताओं के लिए बनाए गए हैं। HTML साइटमैप उपयोगकर्ताओं के अनुभव को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है ताकि उपयोगकर्ता आपकी वेबसाइट के बारे में आसानी से नेविगेट कर सकें।

जब आप अपनी वेबसाइट बनाते हैं तो शुरुआत में HTML साइटमैप की ज्यादा जरूरत नहीं होती है, लेकिन जब आपकी वेबसाइट बढ़ने लगे तो आपको HTML साइटमैप जरूर बनाना चाहिए क्योंकि यह आपकी वेबसाइट के स्ट्रक्चर के बारे में ज्यादा डिटेल देता है। यह SEO की दृष्टि से भी बहुत अच्छा है।

एक बार गूगल सर्च कंसोल

1Image Sitemap
2Video Sitemap
3Post Sitemap
4Category Sitemap
5News Sitemap
6Page Sitemap

ब्लॉगर में साइटमैप कैसे बनाएं और इसे गूगल सर्च कंसोल में कैसे अपलोड करें?

जैसे कि आप जानते ही हैं कि साइटमैप क्या होता है? साइटमैप क्यों आवश्यक है? लेकिन क्या आप जानते हैं कि ब्लॉगर में साइटमैप कैसे बनाया जाता है? अधिकांश ब्लॉगर यह नहीं जानते कि ब्लॉग में साइटमैप कैसे जोड़ें? क्या आपकी भी यही समस्या है? हां, तो चलिए मैं आपको बताता हूं कि साइटमैप कैसे बनाएं और इसे ब्लॉग में कैसे जोड़ें?

ब्लॉगर में साइटमैप बनाने के लिए सबसे पहले आपको गूगल में जाना होगा, फिर सर्च इंजन में ब्लॉगर साइटमैप टाइप करना होगा। फिर आपको ब्लॉगर साइटमैप के पहले लिंक पर क्लिक करना है। क्लिक करते ही आप उस वेबसाइट के पेज पर आ जाएंगे।

फिर आपको वहां लिखा हुआ Paste पूरा URL दिखाई देगा। आपको अपना URL (https या www) जो कुछ भी है उसे पेस्ट करना होगा। आप अपने Blogspot.com या कस्टम डोमेन में से किसी का भी उपयोग कर सकते हैं। उसके नीचे आपको Generate sitemap का Option मिलेगा।

एक बात का ध्यान रखना चाहिए कि पहले आपको एक ब्लॉग पोस्ट लिखना है, फिर आपको एक साइटमैप बनाना है, यदि आप ऐसा नहीं करते हैं, तो आपको साइटमैप का कोई उपयोग नहीं होगा।

आपको ब्लॉगर साइटमैप से कोड्स को कॉपी करना है, फिर अपने डैशबोर्ड पर आएं और वहां सेटिंग्स में जाएं। सेटिंग में आपको सर्च प्रेफरेंस पर क्लिक करना है। खोज वरीयता में, कस्टम robot.txt में हाँ पर क्लिक करें और हाँ पर क्लिक करें, फिर उस कोड को पेस्ट करें जिसे आपने वहां कॉपी किया था। इसके बाद सेव चेंजेस पर क्लिक करें।

उसके बाद आपको Custom robot Header tags में yes in edit पर क्लिक करके कुछ सेटिंग करनी है। सेटिंग करने के बाद आपको वापस गूगल सर्च कंसोल पर आना है। आपको यह पुष्टि करनी होगी कि जिस वेबसाइट का XML साइटमैप आप सबमिट कर रहे हैं वह वही है।
उसके बाद साइटमैप में आप देखेंगे कि आपकी वेबसाइट का डोमेन वहां पहले से दिख रहा है। उसके ठीक पहले आपको एक साइटमैप लिखकर सबमिट करना है, अब आपका साइटमैप ब्लॉगर पर तैयार है। आइए अब जानते हैं कि ब्लॉगर में HTML साइटमैप कैसे बनाते हैं?

ब्लॉगर पर HTML साइटमैप बनाने के लिए सबसे पहले आपको ब्लॉगर के डैशबोर्ड में जाना होगा, फिर लेफ्ट साइड में पेजों पर क्लिक करना होगा। Pages पर क्लिक करने के बाद आपको New Page पर क्लिक करना है। जैसे ही आप नए पेज पर क्लिक करेंगे तो आप ब्लॉगर की पोस्ट के बगल वाली जगह पर आ जाएंगे, जहां आपको पेज में साइटमैप लिखना है।

इसके बाद आपको पेज सेटिंग्स में जाकर कमेंट्स की अनुमति देनी होगी, फिर हो गया। फिर वहां आपको एक कोड दिखाई देगा, आपको इसे हटाना होगा और इसके बजाय, साइटमैप कोड को ब्लैंक पेज में कॉपी और पेस्ट करना होगा।

फिर नीचे स्क्रॉल करें और सबसे अंत तक नीचे आएं। अगर HTML फील्ड में कोई डिफॉल्ट है तो उसे हटा दें और अगर कोई एरर हो तो उसे भी हटा दें।

वर्डप्रेस में साइटमैप कैसे बनाएं और इसे गूगल सर्च कंसोल पर अपलोड करें?

अधिकांश ब्लॉगर इस बात को लेकर चिंतित रहते हैं कि साइटमैप कैसे बनाया जाए? विशेष रूप से नए ब्लॉगर्स को लगता है कि वर्डप्रेस में साइटमैप बनाना बहुत जटिल है लेकिन आपको यह स्पष्ट कर देना चाहिए कि ऐसा कुछ भी नहीं है। ब्लॉगर की तुलना में वर्डप्रेस में साइटमैप बनाना आसान है। मैं आपको बताता हूँ कि WordPress में Sitemap कैसे बनाते हैं?

WordPress में Sitemap बनाने के लिए सबसे पहले आपको WordPress Dashboard में जाना होगा, उसके बाद Add new in plugins पर क्लिक करना होगा। फिर सर्च बार से Yoast इंस्टॉल करें। इंस्टॉल करने के बाद इसे एक्टिवेट करना होगा। उसके बाद लेफ्ट साइड में आपको SEO के तहत Search अपीयरेंस का ऑप्शन मिलेगा उस पर आपको क्लिक करना है।

जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपके सामने एक पेज खुलेगा। उसके बाद आपको अपनी वेबसाइट पर जाकर URL के सामने “/sitemap.xml” लिखना है, उसके बाद आप देखेंगे कि आपको वहां कई विकल्प मिलते हैं। जिससे आप अपने यूआरएल को भी चेंज करवा लेंगे।

वहां आपको पोस्ट, पेज, कैटेगरी और अन्य विकल्प मिलेंगे। लेकिन आपको साइटमैप का उपयोग केवल पोस्ट और पेज के साथ करना है। पोस्ट और पेज लेने के लिए आपको कुछ सेटिंग्स करनी होती हैं जिसके लिए आपको डैशबोर्ड में आना होता है।

फिर आपको कैटेगरी, टैक्सोनोमीज के टैग्स को डिसेबल करना होगा और फॉर्मेट को डिसेबल करना होगा, फिर आर्काइव्स को भी डिसेबल करना होगा, उसके बाद सेव चेंजेस पर क्लिक करना होगा। परिवर्तन सहेजें आपको सेटिंग सहेजें का संदेश मिलेगा।

फिर आपको उसी पेज पर वापस जाना है जहां आपको पेज और पोस्ट मिले थे। अब आप पाएंगे कि वहां सिर्फ Page और Post का ही Option दिखाई दे रहा है। फिर आपको “Sitemap_index.xml” को कॉपी करना होगा।

उसके बाद आपको गूगल सर्च कंसोल में जाना है, जो कॉपी किया था उसे साइटमैप में पेस्ट कर देना है, फिर सबमिट कर देना है।

फिर आपको एक संदेश मिलेगा कि आपका एक्सएमएल साइटमैप तैयार हो गया है और सफलतापूर्वक सबमिट हो गया है।

सबमिट करने के बाद अगर आपको “प्राप्त नहीं हो सका” देखने को मिलता है, तो चिंता की कोई बात नहीं है, आप 2 से 3 मिनट तक प्रतीक्षा करें और फिर इसे रिफ्रेश करें, फिर आपको सफलता लिखी दिखाई देगी मैंने आपको XML साइटमैप बनाने और सबमिट करने के लिए कहा था। अब मैं आपको दिखाता हूँ कि WordPress में HTML Sitemap कैसे बनाते हैं?

HTML Sitemap बनाने के लिए आपको WordPress Plugins में जाना होगा। वहां आपको Add new पर क्लिक करना है और सर्च बार में सिंपल साइट मैप लिखना है। सबसे पहले आप उस प्लग को देखेंगे

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like

Read More