SEO

Technical SEO क्या है: 16 Important Components!

तकनीकी एसईओ क्या है और इसे कैसे करें? क्या आप इस बात से अच्छी तरह वाकिफ हैं? SEO करते समय हम केवल On Page और Off Page SEO पर ध्यान देते हैं लेकिन SEO में एक तकनीकी SEO भी बहुत महत्वपूर्ण है। जिस पर किसी ब्लॉगर का ध्यान नहीं जाता। अगर आपने बहुत अच्छा कंटेंट … Continue reading Technical SEO क्या है: 16 Important Components!

तकनीकी एसईओ क्या है और इसे कैसे करें? क्या आप इस बात से अच्छी तरह वाकिफ हैं? SEO करते समय हम केवल On Page और Off Page SEO पर ध्यान देते हैं लेकिन SEO में एक तकनीकी SEO भी बहुत महत्वपूर्ण है। जिस पर किसी ब्लॉगर का ध्यान नहीं जाता।

अगर आपने बहुत अच्छा कंटेंट लिखा है और उसके लिए बहुत सारे बैकलिंक्स भी बनाए हैं, लेकिन फिर भी अगर आपका इंडेक्स और रैंक नहीं हो रहा है, तो समझ लें कि इसमें कुछ तकनीकी समस्या है, जिसे आपको ठीक करना होगा। लेकिन कैसे टेक्निकल SEO करते हैं | क्या आपको ये पता है? यदि नहीं तो यह लेख आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाला है।

तकनीकी एसईओ क्या है

इस ब्लॉग पोस्ट में मैं आपको यह बताने जा रहा हूं कि तकनीकी एसईओ क्या है और इसमें कौन सी महत्वपूर्ण चीजें आती हैं, जिन्हें समझना आपके लिए बहुत जरूरी है, ताकि ऑन पेज एसईओ और ऑफ पेज एसईओ करने के बाद भी आपका लेख रैंक नहीं करता है, तो आप इसे जांचें। ऐसा करने के लिए।

यह लेख बहुत ही रोचक होने वाला है, इसलिए कोई भी बिंदु न चूकें। आइए पहले समझते हैं कि तकनीकी एसईओ क्या हैं।

तकनीकी एसईओ क्या है

विषयसूची

तकनीकी एसईओ क्या है
तकनीकी एसईओ क्यों महत्वपूर्ण है
अपनी वेबसाइट के तकनीकी एसईओ को कैसे सुधारें: 16 महत्वपूर्ण घटक
1. डोमेन क्या हैं
2. वेब होस्टिंग क्या है
3. सर्वर लोकेशन क्या है
4. पेज स्पीड क्या है
5. वेबसाइट डिजाइन और संरचना क्या है
6. एसएसएल सर्टिफिकेट क्या है
7. वेबसाइट एरर्स क्या है
Hostinger Hosting और Free SSL खरीदें
अतिरिक्त छूट कोड: – SEOPAVAN
8. URL संरचना क्या है
9. ब्रोकन लिंक्स क्या है?
10. एएमपी क्या है
11. क्रॉलिंग और इंडेक्सिंग क्या है
12. Robot.txt क्या है?
13. XML साइटमैप क्या है?
14. गूगल सर्च कंसोल क्या है?
15. कैननिकल यूआरएल क्या है
16. सीडीएन क्या है?
निष्कर्ष: तकनीकी एसईओ क्या है
अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न: तकनीकी एसईओ हिंदी में
तकनीकी SEO Off Page SEO, On Page SEO और Local SEO इन सभी से बिल्कुल अलग हैं। तकनीकी एसईओ में, आपकी वेबसाइट की संरचना का विश्लेषण किया जाता है। तकनीकी SEO भी SEO में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। तकनीकी SEO के बिना आपकी वेबसाइट चलाना संभव नहीं है।

टेक्निकल SEO में आपको अपनी वेबसाइट को क्रॉलिंग, इंडेक्सिंग और रेंडरिंग के लिए ऑप्टिमाइज़ करना होता है ताकि Google को आपके ब्लॉग पोस्ट को रैंक करने में कोई समस्या न हो। दूसरे शब्दों में, तकनीकी एसईओ आपकी वेबसाइट से संबंधित सभी तकनीकी चीजें लाता है, जिन्हें आपको ठीक करना है।

Ubersuggest के फाउंडर नील पटेल के मुताबिक, किसी भी वेबसाइट के टेक्निकल फाउंडेशन को मजबूत करने के लिए जो भी काम किया जाता है, वह कंटेंट के अलावा टेक्निकल SEO के अंतर्गत आता है।

संक्षेप में, मैं यह कहना चाहता हूं कि आप अपनी सामग्री के अलावा अपनी वेबसाइट की तकनीकी चीजों को बेहतर बनाने के लिए जो भी काम करते हैं, वह तकनीकी एसईओ है।

तो आइए समझते हैं कि आपको तकनीकी एसईओ जानकारी क्यों लेनी चाहिए।

तकनीकी एसईओ क्यों महत्वपूर्ण है

क्या आपने बिना सूत्र का उपयोग किए गणित का कोई प्रश्न हल किया है? क्या आपने कभी अपनी किताब में एक अध्याय छोड़कर परीक्षा दी है? नहीं नहीं, बिना सोचे समझे कुछ भी करना बड़े खतरे की बात हो जाती है। इसलिए बिना टेक्निकल SEO को समझे सिर्फ On Page और Off Page SEO को यह समझना कि आपका काम पूरा हो गया है, गलत है।

चलिए मान लेते हैं कि आपने अपनी वेबसाइट का On Page SEO और Off Page SEO कर लिया है, लेकिन अगर आपके पोस्ट की क्रॉलिंग और इंडेक्सिंग में कोई समस्या है, तो क्या आपका ब्लॉग पोस्ट Google में रैंक करेगा? नहीं, आपको पहले यह समझना होगा कि तकनीकी समस्या के कारण आपका ब्लॉग पोस्ट Google पर रैंकिंग नहीं कर रहा है। तकनीकी एसईओ स्थानीय एसईओ में भी मदद करता है।

इसलिए तकनीकी एसईओ का ज्ञान होना बहुत जरूरी है, तो आइए समझते हैं कि आप अपनी वेबसाइट के तकनीकी एसईओ को कैसे सुधार सकते हैं।

अपनी वेबसाइट के तकनीकी एसईओ को कैसे सुधारें: 16 महत्वपूर्ण घटक
क्या आप अपनी वेबसाइट के तकनीकी एसईओ में सुधार करना चाहते हैं? अगर हां, तो आपके लिए इन 15 जरूरी चीजों को समझना जरूरी है। क्योंकि यहाँ पर तकनीकी SEO में वो सभी चीज़ें आती हैं जिन्हें आप समझ सकते हैं और अपनी वेबसाइट में ठीक कर सकते हैं।

1. डोमेन क्या हैं
जिस नाम पर आपकी वेबसाइट रजिस्टर होती है उसे डोमेन कहते हैं। जैसे मेरी वेबसाइट का डोमेन 29thbg3.com है। Domain Name एक ऐसा एड्रेस होता है जिसकी मदद से इंटरनेट यूजर्स आपकी वेबसाइट को एक्सेस करते हैं।

इंटरनेट पर अनगिनत डोमेन नाम उपलब्ध हैं जिनके लिए आप .in, .xyz, .club, .edu, .store, .net, और कई अन्य एक्सटेंशन का उपयोग कर सकते हैं। .com जिससे आप निश्चित रूप से परिचित होंगे।

आपको अपनी वेबसाइट के कंटेंट के हिसाब से Domain Name खरीदना चाहिए ताकि लोग आपकी वेबसाइट के बारे में जान सकें। मुझे पता है अब आप कहेंगे कि मैंने अपनी वेबसाइट का नाम दीपावली.co.in क्यों रखा। उस समय मुझे इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं थी, इसलिए।

2. वेब होस्टिंग क्या है
जब कोई वेबसाइट प्रदाता किसी वेबसाइट के सभी डेटा को सर्वर पर होस्ट करता है ताकि उस सर्वर पर आने वाला प्रत्येक व्यक्ति उस डेटा को देख सके, तो इसे वेब होस्टिंग कहा जाता है।

यह डेटा उस सर्वर पर कुछ कोड के माध्यम से दिखाया जाता है लेकिन यह एक हार्ड ड्राइव में ही संग्रहीत होता है। आप अपनी वेबसाइट को अपने कंप्यूटर पर भी होस्ट कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like

Read More